Manipulation in Indian history - News Beyond The Media House

News Beyond The Media House

झूठी खबरों की पोल खोल EXPOSE FAKE NEWS झूठी खबरों की पोल खोल EXPOSE FAKE NEWS झूठी खबरों की पोल खोल EXPOSE FAKE NEWS झूठी खबरों की पोल खोल EXPOSE FAKE NEWS झूठी खबरों की पोल खोल EXPOSE FAKE NEWS झूठी खबरों की पोल खोल EXPOSE FAKE NEWS झूठी खबरों की पोल खोल EXPOSE FAKE NEWS झूठी खबरों की पोल खोल EXPOSE FAKE NEWS झूठी खबरों की पोल खोल EXPOSE FAKE NEWS झूठी खबरों की पोल खोल बिकाऊ मिडिया पर जोरदार प्रहार BY विकास बौंठियाल !!

नया है वह

Home Top Ad

Post Top Ad

Thursday, December 6, 2018

Manipulation in Indian history



जो आप देख, सुन और पढ़ रहे हो वो सब भ्रम है।
सच जानना है तो एक ही मार्ग है।
“ स्वयं पता करें “

———-———-~~~~~~ ———-———-

क्या किसी को पता है भारत कब स्वतंत्र हुआ था और भारत के प्रथम प्रधानमंत्री कौन थे....?

१००% लोग वही बोलेंगे जो उन्होने वामपंथियो द्वारा बनाये गये इतिहास के पाठ्यक्रम (School Syllabus) मे पढ़ा होगा। 

———-———-~~~~~~ ———-———-

नेता जी सुभाष चन्द्र बोस जिन्होंने आजाद हिन्द सरकार के प्रधानमंत्री पद की शपथ 21 अक्तूबर, 1943 को ली थी।

आजाद हिंद फौज की इस सरकार को तेरह देशों ने मान्यता भी दे दी थी।

हमे पढाया जाता है की १५ अगस्त १९४७ को भारत आजाद हुआ और जवाहरलाल नेहरू भारत के प्रथम प्रधानमंत्री थे।

———-———-~~~~~~ ———-———-

१५ अगस्त १९४७ के दिन तो केवल अंग्रेजों ने भारत छोडा एंव जवाहरलाल नेहरू ने प्रथम प्रधानमंत्री नेताजी सुभाषचंद्र बोस जी को साजिश से मरवाकर सत्ता हासिल की थी।

———-———-~~~~~~ ———-———-

जन गण मन राष्ट्रगान 1911 मे रविंद्रनाथ टैगोर ने ब्रिटेन के राजा जॉर्ज के स्वागत मे लिखा था।

स्वतंत्र भारत मे वंदे मातरम् को राष्ट्रगान बनाने का प्रस्ताव रखा गया था।

मुस्लिम विरोध और अंग्रेज चाटुकारिता के कारण वंदे मातरम् के स्थान पर जन गण मन को भारत का राष्ट्रगीत बनाया गाय।

जन गण मन के बोल पर ध्यान दोगे तो पाओगे की आज भी हम ब्रिटिश राजा के सम्मान मे गीत गाते हैं जिसमे विंध्य, हिमाचल, यमुना, गंगा जैसी नदियों से लेकर, पंजाब, सिंध, गुजरात, मराठा जैसे राज्य के प्रत्येक जन और गण पूरे मन से राजा जॉर्ज की जय-जयकार करते हैं।

———-———-~~~~~~ ———-———-

आर्यव्रत भारत की सीमा ईराक, ईरान, बगदाद, बलूचिस्तान, इजराईल, बर्मा, पाकिस्तान, बाँग्लादेश, तिब्बत, नेपाल, भूटान तक फैली हुई थी जो हमारे बेवकुफी के कारण सिमटती गई।

कोई भ्रम ना पाले अन्यथा कश्मीर, जम्मू, उत्तराखंड, कैराना, पंजाब, दिल्ली, केरला, हैदराबाद, बंगाल भी हाथ से जाने की कगार पर है।

———-———-~~~~~~ ———-———-

धरती के जिस टुकडे पर आप रहते हो उसका एक ही पौराणिक एंव शास्त्र सम्मत नाम भारत है।

बाकी के नाम जैसे हिंदुस्तान, हिंद, India सब धर्म विरूद्ध एंव छूठे हैं।

सच्चाई पता करें एंव भ्रम से बाहर निकले....🙏

———-———-~~~~~~ ———-———-

भारत मे जितने भी मुस्लिम, क्रिश्चयन, बौध और बाकी के लोग ४-५ सौ साल पहले हिंदु थे जिनको या तो डरा-धमकाकर, या लालच देकर, या बेवकुफ बनाकर convert किया गया.....

!! तो गफलत मे मत रहिए की तुम मुलमान हो !!

———-———-~~~~~~ ———-———-

भारत छोडकर बाकी के पूरी दुनिया मे जितने भी मुस्लिम, क्रिश्चयन, बौध, यहुदी, पारसी और बाकी के लोग ५ हजार साल पहले हिंदु थे जिनको या तो डरा-धमकाकर, या लालच देकर, या बेवकुफ बनाकर convert किया गया.....

!! तो गफलत मे मत रहिए की तुम मुलमान हो !!

सत्य सनातन की की जय हो।
विधर्मी मुसलमानो, इसाईयो, 
भिमटो, लपरझंडुओं का नाश हो।।
!! जय श्री राम !!

विकास बौठियाल


श्मीरी पंडितों दर्द बयां कराती एक कविता https://vikasbounthiyal.blogspot.com/2018/11/blog-post.html




No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages